सूरजपुर/प्रतापपुर(ग्राम पंचायत श्यामनगर)–छत्तीसगढ़ के पूर्व सरकार में रहे गृह मंत्री रामसेवक पैकरा और वर्तमान सरकार के शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रेमसाय सिंह टेकाम के गृह जिला सुरजपुर, विकासखंड प्रतापपुर के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत श्यामनगर के ग्राम वासियों ने ग्राम पंचायत श्यामनगर के सरपंच सचिव और रोजगार सहायक पर लगाए गंभीर आरोप।

ब्यूरो रिपोर्ट–मोहन प्रताप सिंह(सहसंपादक)- छत्तीसगढ़ समाचार(सच्ची खबर पुख्ता खबर)-सूरजपुर/प्रतापपुर(ग्राम पंचायत श्यामनगर)–छत्तीसगढ़ के पूर्व सरकार में रहे गृह मंत्री रामसेवक पैकरा और वर्तमान सरकार के शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रेमसाय सिंह टेकाम के गृह जिला सुरजपुर, विकासखंड प्रतापपुर के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत श्यामनगर के ग्राम वासियों ने ग्राम पंचायत श्यामनगर के सरपंच सचिव और रोजगार सहायक पर लगाए गंभीर आरोप।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ के पूर्व सरकार में रहे गृहमंत्री रामसेवक पैकरा और वर्तमान सरकार में शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रेमसाय सिंह टेकाम के गृह जिला सूरजपुर और विकासखंड प्रतापुर के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत श्यामनगर में समस्याओं का अंबार लगा है। ग्राम पंचायत श्यामनगर के ग्राम वासियों ने बताया कि उनके द्वारा ग्राम पंचायत की समस्या को लेकर उच्च अधिकारी जैसे कि मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत प्रतापपुर को 27-3-2019, माननीय रेणुका सिंह सांसद सरगुजा एवं राज्यमंत्री दिल्ली 1-9- 2019, श्रीमान अनुविभागीय दंडाधिकारी प्रतापुर 18-10-2019, श्रीमान कलेक्टर महोदय जिला सूरजपुर 10-10-2017, श्रीमान मुख्य कार्यपालन अधिकारी सूरजपुर 10-1-18, श्रीमान गृह जेल एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री छत्तीसगढ़ सरकार 1-9- 2017, श्रीमान कलेक्टर महोदय जनदर्शन कार्यक्रम सूरजपुर 11-6-2019 और 16-7-2019 दिनाँक को शिकायत किया गया लेकिन शिकायत करने के बावजूद संबंधित उच्चअधिकारियों के द्वारा ग्राम पंचायत में हो रहे धांधली में ग्राम पंचायत सरपंच ताराचंद केरवा, ग्राम पंचायत सचिव कमला प्रसाद ठाकुर, ग्राम पंचायत रोजगार सचिव शिवरतन राजवाड़े के ऊपर उच्च अधिकारियों के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई जिससे ग्राम पंचायत श्यामनगर के सरपंच ताराचंद चेरवा, सचिव कमला प्रसाद ठाकुर, और रोजगार सहायक सचिव शिवरतन राजवाड़े का मनोबल काफी बढ़ गया है जिसके कारण ग्राम पंचायत में हो रहे कोई भी काम जैसे ग्राम पंचायत श्यामनगर में बने स्कूल चाहे मिडिल स्कूल हो, प्राइमरी स्कूल हो या हायर सेकेंडरी स्कूल हो, शौचालय निर्माण हो, मनरेगा में हो रहे समस्त काम हो सभी में इनकी ग्राम वासियों के द्वारा गड़बड़ियां बताई जा रही है। स्कूलों में छात्र-छात्राओं के लिए स्वच्छ पानी पीने के लिए नहीं है शौचालय बने हैं लेकिन पानी का व्यवस्था नहीं है जिसके कारण इन सभी स्कूलों के छात्र-छात्राओं सहित सभी शिक्षकों और शिक्षिकाओं को शौचालय जाने के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शिक्षकों के द्वारा बताया गया कि इस मामले पर उच्च अधिकारियों और ग्राम पंचायत सचिव सरपंच को अवगत कराया गया पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई जिसके कारण समस्या बनी हुई है। ग्राम पंचायत श्यामनगर की ग्राम वासियों ने बताया कि वह ग्राम पंचायत सरपंच सचिव और रोजगार सहायक से परेशान हो गए हैं जिसके कारण वह कई बार उच्च अधिकारियों से ग्राम पंचायत के सचिव कमला प्रसाद ठाकुर और रोजगार सहायक सचिव को ग्रामपंचायत श्यामनगर से हटाने और सरपंच पर पूर्ण कार्यवाही करने की मांग कर चुके हैं लेकिन उनके द्वारा किए गए शिकायत का उच्च अधिकारियों सहित सरपंच सचिव रोजगार सचिव पर कोई असर नहीं हुआ और न हीं आज तक कोई कार्यवाही हुई।

ग्राम पंचायत श्यामनगर में बनने वाला अतिरिक्त कक्ष अब तक अपूर्ण–ग्राम पंचायत श्यामनगर में बनने वाला अतिरिक्त कक्ष प्राथमिक पाठशाला का बनने वाला अतिरिक्त कक्ष लगभग 2008-9 में स्वीकृति हुआ था जिसका पैसा ग्राम पंचायत के सचिव, सरपंच के द्वारा आहरण कर लिया गया और बनने वाला अतिरिक्त कक्ष आज लगभग 8 साल से अधिक हो चुका है फिर भी अधूरा पड़ा हुआ है उच्च अधिकारियों से इसकी शिकायत किए जाने के बावजूद भी 8 साल बीत जाने के बाद कोई कार्यवाही नहीं किया गया है।

ग्राम पंचायत में शौचालय नहीं बना लेकिन ग्राम पंचायत ओडीएफ घोषित–ग्राम पंचायत के सरपंच के द्वारा बताया गया कि ग्राम पंचायत श्यामनगर में 389 शौचालय बनकर तैयार हुआ और सभी हितग्राहियों को हैंड ओवर कर दिया गया वहीं ग्राम पंचायत को पूर्ण रूप से ऑडियो भी घोषित कर दिया गया लेकिन ग्राम वासियों से बात करने पर और ग्राम पंचायत श्यामनगर में हमारे द्वारा घर-घर जाकर शौचालय को देखने से पता चला कि वहां का ओडीएफ होने का माजरा ही कुछ और है क्योंकि कागजों में 389 शौचालय बन कर ओडिएफ तो घोषित कर दिया गया लेकिन हकीकत में बहुत से हितग्राहियों से शौचालय बना हुआ कागजों में दर्शाया गया लेकिन उनके घर में अभी तक शौचालय नहीं बना गड्ढा खुदा है लेकिन शौचालय का निर्माण नहीं किया गया और उनके नाम से कागजों में दर्शाए दिया गया है कि इनके घर में शौचालय बना गया है इस संबंध में सरपंच से बात करने पर सरपंच द्वारा जवाब दिया गया कि ग्राम पंचायत का जब ओडीएफ किया गया उस समय मैं ग्राम पंचायत में उपस्थित नहीं था उच्च अधिकारियों ने मेरी अनुपस्थिति में ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित किया।

स्कूलों में शौचालय और पानी का व्यवस्था नहीं–ग्राम पंचायत श्यामनगर के मिडिल स्कूल, प्राइमरी स्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूलों में छात्र-छात्राओं के लिए शौचालय का व्यवस्था नहीं है क्योंकि जो शौचालय बना है वह उपयोग लायक नहीं है वह पूर्ण रूप से जर्जर हो चुका है और ना ही स्वच्छ पानी का व्यवस्था है पीने के लिए स्कूलों के शिक्षक, हेड मास्टर और प्रिंसिपल से बात करने पर पता चला कि मिडिल स्कूल का छत झज्जर है कभी भी अप्रिय घटना घटित हो सकता है, अतिरिक्त भवन बना है वह अतिरिक्त कक्ष बाहर से चकाचक दिखाई तो दे रहा है लेकिन अंदर जाने पर पता चला कि वह उपयोग लायक नहीं है, स्कूलो में मध्यान्ह भोजन बनाने वाले महिलाओं ने बताया कि उन्हें लगभग 7 माह से अधिक हो चुका है उन्हें हर महीने मिलने वाला राशि नहीं मिला है बच्चों को खाने के लिए पर्याप्त मात्रा में आहार उपलब्ध नहीं कराया जाता है। हमारे द्वारा देखने और महिलाओं से बात करने पर पता चला कि 92 बच्चों के खाने के लिए दाल एक से डेढ़ किलो वही सब्जी बहुत कम मात्रा दिया जाता है जो पर्याप्त नहीं है हाई सेकेंडरी स्कूल में शौचालय तो है लेकिन पानी नहीं है हाई सेकेंडरी स्कूल के 11वीं और 12वीं की छात्राओं से बात करने पर पता चला कि उन्हें शौचालय जाने के लिए काफी परेशान होना पड़ता है क्योंकि पानी की व्यवस्था नहीं है शिक्षकों ने बताया कि मोटर चोरी हो गया है उसमें पानी नहीं निकलता स्कूल के सीढ़ी से ऊपर जाने वाले छत पर जो सीट लगा था उड़ गया है स्कूल में पानी पीने के लिए जो टंकी है वह सभी टंकियां टूट गई हैं लेकिन इसकी शिकायत सरपंच सचिव और उच्च अधिकारियों से करने के बाद भी लगभग 2 वर्ष बीत गए आज तक इसकी मरम्मत और दूसरी टंकी नहीं लगाया गया जिसके कारण स्कूल के छात्र-छात्राएं और शिक्षक-शिक्षिकाएं काफी परेशान होते हैं।

पूर्व विधायक मद से बनने वाला स्टेज है अधूरा–प्रतापपुर विधानसभा के पूर्व विधायक के द्वारा ग्राम पंचायत श्यामनगर के तमोर पारा में स्टेज बनने के लिए राशि स्वीकृत किया गया था लेकिन स्टेज तो नहीं बना और उसके लिए स्वीकृत राशि सरपंच सचिव के द्वारा आहरित कर लिया गया और अब तक जो बनने वाला स्टेज का कार्य अभी अपूर्ण है ग्राम वासियों ने बताया कि सरपंच सचिवों से जब बात की जाती है इस स्टेज के बारे में तो उनके द्वारा बस यही जवाब दिया जाता है कि बना दिया जाएगा बना दिया जाएगा लेकिन काम कभी चालू नहीं हो पाया है।

मनरेगा के कार्यों में ग्राम रोजगार सचिव के द्वारा किया जा रहा है धांधली– मनरेगा के कार्यो में ग्राम पंचायत श्यामनगर में रोजगार सचिव के द्वारा किया जा रहा है धांधली। ग्राम पंचायत श्याम नगर के ग्राम वासियों ने रोजगार सचिव पर गंभीर आरोप लगाया है कि रोजगार सचिव द्वारा काम तो करा लिया गया है लेकिन उनकी मजदूरी का पैसा लगभग 4 साल हो गए हैं लेकिन नहीं मिला है डबरी निर्माण में काम नहीं करने दिया जाता है वह खुद अपने चहेतों के नाम से हाजिरी लगाकर पैसा कारण कर रहे हैं रोजगार सचिव को ग्रामवासी बोलते हैं तो उन्हें डराया धमकाया और धमकियां दी जाती है कि तुम लोगों को जहां जाना है जाओ जिस से शिकायत करनी है करो मेरा कुछ नहीं होगा।

ग्राम पंचायत श्याम नगर जनपद पंचायत प्रतापपुर जिला सूरजपुर के सचिव कमला प्रसाद ठाकुर जो लंबे समय से ग्राम पंचायत श्यामनगर में पदस्थ हैं और काफी घोटाला करते हुए ग्राम वासियों का कभी भी बात नहीं सुनना जिससे जनता काफी परेशान है जिसकी शिकायत ग्रामवासी कई बार उच्च अधिकारियों से कर चुके हैं जबकि शिकायत ग्रामवासियों द्वारा 20-8-2019, 2-10-2019 एवं 18-10-2019 में ग्राम पंचायत के द्वारा आयोजित ग्राम सभा का बहिष्कार सचिव की मनमानी के कारण किया गया क्योंकि कोई भी प्रश्न का जवाब सचिव के द्वारा ग्राम वासियों को नहीं दिया जाता है सचिव के पास जब ग्राम पंचायत श्याम नगरवासी प्रश्न करते हैं तो सचिव ग्राम सभा को छोड़कर भाग जाते हैं जिसके कारण सरकार के द्वारा किए जाने वाले कार्यों का लाभ ग्राम वासियों को नहीं मिलता है ग्राम वासियों ने यह भी आरोप लगाया है कि ग्राम पंचायत मैं जब भी ग्राम सभा का आयोजन होना होता है तो ग्राम पंचायत के सरपंच सचिव और रोजगार सचिव के द्वारा ग्राम वासियों को समय से सूचित नहीं किया जाता जब ग्राम पंचायत में सभा की बैठक होना होता है उससे एक घंटा पहले ग्राम वासियों को सूचित करते हैं और खुद ही सरपंच सचिव और रोजगार सचिव मिलकर रजिस्टर मेंटेन कर ग्राम सभा को पूर्ण होना बता दिया जाता है सभी परेशानियों के कारण ग्राम पंचायत श्याम नगर के समस्त ग्रामवासी काफी परेशान हैं क्योंकि ग्राम पंचायत श्यामनगर के सरपंच, सचिव और रोजगार सचिव खराब व्यवहार और गलत कार्य प्रणाली के करण ग्राम वासियों को ना नवीनीकरण होने वाला राशन कार्ड उपलब्ध हो रहा है ना शौचालय निर्माण हो रहा है ना डबरी करण में काम करने दिया जा रहा है स्कूलों में स्वच्छ पानी और शौचालय की व्यवस्था नहीं है स्कूलों में मध्यान्ह भोजन बनाने वाली महिलाओं को वेतन न मिलना पर्याप्त मात्रा में सब्जी और पोषण आहार उपलब्ध ना कराना छतों का जर्जर होना स्कूलों के लिए अतिरिक्त कक्ष का निर्माण पुरा न होना ग्राम सभा होने के लिए ग्रामीणों को सूचित ना करना जैसे अनेकों समस्या है उनकी उच्चाधिकारियों से शिकायत करना लेकिन उच्च अधिकारियों के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं किए जाने के बाद भी समस्या की जिसकी शिकायत के दुबारा उच्च अधिकारियों से अपील कर रहे हैं कि ग्राम पंचायत में सरकार द्वारा दिए जा रहे कार्य योजना का लाभ मिले इसके लिए ग्राम पंचायत के सचिव और रोजगार सचिव पर कार्यवाही करते हुये ग्राम पंचायत श्यामनगर से हटा दिया जाए वही सरपंच पर भी कार्यवाही की जाए ताकि ग्राम पंचायत श्याम नगर के समस्त ग्राम वासियों को छत्तीसगढ़ सरकार और केंद्र सरकार के द्वारा जारी कार्य योजना का लाभ मिल सके नही तो परेशान होने के कारण ग्राम पंचायत श्यामनगर के ग्रामवासी चक्का जाम कर उग्र आंदोलन करने के साथ-साथ आगामी ग्राम पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने के लिए बाध्य होंगे।

विशेष– आज ग्राम पंचायत तमोर में छत्तीसगढ़ समाचार सच्ची खबर पुख्ता खबर के संपादक मोहन प्रताप सिंह न्यूज चैनल के जिला रिपोर्टर मोहन प्रताप सिंह के द्वारा ग्राम पंचायत सचिव कमला प्रसाद ठाकुर और खुद ग्राम पंचायत के उपस्थित ग्रामीणों के द्वारा अनेकों बार फोन लगाकर ग्रामीणों के बीच उपस्थित होने के लिए बोला गया लेकिन सचिव कमला ठाकुर ने अनेको बहाना बनाकर उपस्थित नहीं हुए जिसके कारण ग्राम पंचायत श्यामनगर ग्रामीणों का कहना है कि जब ग्राम पंचायत सचिव कमला ठाकुर ने कोई धांधली घपला नहीं किया है ग्राम पंचायत में हो रहे सभी काम ठीक ठाक चल रहा हैं तो छत्तीसगढ़ समाचार(सच्ची खबर पुख्ता खबर) के सहसंपादक मोहन प्रताप सिंह के द्वारा बुलाए जाने के बावजूद सभा में क्यों उपस्थित नहीं हुए। इसलिए ग्राम पंचायत के सचिव कमला प्रसाद ठाकुर पर ध्यान देते हुए और इस विषय को गंभीरता से लेते हुए जनपद पंचायत, जिला पंचायत, जिला कलेक्टर, अनुविभागीय दंडाधिकारी प्रतापपुर सहित जिला सुरजपुर के समस्त उच्च अधिकारियों से ग्रामीणों ने अपील की है कि इस विषय पर सोच विचार और ग्राम पंचायत श्यामनगर की समस्याओं को जानकर वही मामले की जांच कर ग्राम पंचायत श्यामनगर के सरपंच तारा चंद चेरवा, सचिव कमला प्रसाद ठाकुर और रोजगार सचिव शिवरतन राजवाड़े पर उचित कार्यवाही किया जाए।

ब्यूरो रिपोर्ट–मोहन प्रताप सिंह(सहसंपादक) छत्तीसगढ़ समाचार(सच्ची खबर पुख्ता खबर) छत्तीसगढ़ के समस्त जिला में और जिला के समस्त ब्लॉक स्तर और तहसील स्तर पर रिपोर्टर नियुक्त होने व समाचार और विज्ञापन लगवाने के लिए मोबाइल नंबर और व्हाट्सएप नंबर 90 9894 1446 पर संपर्क करें।

Check Also

Why Select us? we now have made our application for the loan since simple as five minutes.

🔊 Listen to this Why Select us? we now have made our application for the …